"हजारों ख्वाहिशें ऐसी कि हर ख्वाहिश पर दम निकले।"

"हजारों ख्वाहिशें ऐसी कि हर ख्वाहिश पर दम निकले।"

"इश्क में भी रखवारा हूँ, आफत में भी रखवारा हूँ।"

"इश्क में भी रखवारा हूँ, आफत में भी रखवारा हूँ।"

"दिल ही तो है न संग-ओ-खिश्त, दर्द से भर ना आयेगा क्या।"

"दिल ही तो है न संग-ओ-खिश्त, दर्द से भर ना आयेगा क्या।"

"गुलों में रंग भरा, तो फूलों में रंगीनी है जामी।"

"गुलों में रंग भरा, तो फूलों में रंगीनी है जामी।"

"इबादत के सवाल और जवाब बदलते रहते हैं, इसीलिए हकीकत कभी बदलती नहीं।"

"इबादत के सवाल और जवाब बदलते रहते हैं, इसीलिए हकीकत कभी बदलती नहीं।"

"इश्क की राह में सर्कार की तलवार से कह दो, ये राह बुरी है अब तुम्हारी तलवार बुरी है।"

"इश्क की राह में सर्कार की तलवार से कह दो, ये राह बुरी है अब तुम्हारी तलवार बुरी है।"

"हर एक बात पे कहते हो तुम कि तुम्हे याद नहीं।"

"हर एक बात पे कहते हो तुम कि तुम्हे याद नहीं।"

"हज़ारों आहें भी हैं, तो मुझे छोड़ दो, बैठा हूँ ज़ख्मों की तरह मैं तुम्हारे पास।"

"हज़ारों आहें भी हैं, तो मुझे छोड़ दो, बैठा हूँ ज़ख्मों की तरह मैं तुम्हारे पास।"